Teacher Ne Lund Pakadkar Khushi Di

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम जय है और में सूरत से हूँ, मेरी उम्र 21 साल है। हाईट 6 फुट 3 इंच है और दिखने में स्मार्ट हूँ और रोजाना जिम जाने वाला लड़का हूँ और साथ में मॉडलिंग की तैयारी भी चल रही है। अब में अपनी स्टोरी पर आता हूँ। ये बात तब कि है जब में 12वीं क्लास में पढ़ता था। वैसे उस टाईम में बिल्कुल ही शांत सा था और ना ही ज्यादा लड़कीयों से बात करता था और ना ही कोई फालतू चक्कर में पड़ता था, लेकिन मैंने अपना सेक्स का पहला अनुभव 12वीं क्लास में ही किया था और वो भी अपनी अकाउंट्स टीचर के साथ। अब थोड़ा उनके बारे में भी बता दूँ, उनका नाम प्रिया है और सब उनको प्रिया मेम ही बुलाते थे। वो हमेशा से ही सब टीचर्स से बिल्कुल अलग दिखती थी, क्योंकि उनका ड्रेसिंग सेन्स अच्छा है। टाईट साड़ी के साथ बिना बाँह का ब्लाउज, उनकी हाईट 5 फुट 5 इंच है, वो 30 साल की है। लेकिन उनका फिगर ग़ज़ब का है और वो एकदम गोरी थी और ना ज्यादा स्लिम और ना ज्यादा मोटी थी। वो हर एक ज़गह से एकदम शानदार थी। उनका फिगर साईज़ तो पता नहीं, लेकिन उनके बूब्स काफ़ी बड़े और सुडोल है। वो कभी-कभी तो डीप कट ब्लाउज पहनकर आती थी तो किसी भी स्टूडेंट का ध्यान पढ़ाई में लगता ही नहीं था, लेकिन में उनसे लिमिट में ही बात करता था, क्योंकि उस टाईम में थोड़ा शर्मिला था।

ये बात हमारे स्कूल के कुछ अंतिम दिनों की है जब हमारे स्कूल में प्रोग्राम होने वाला था तो सब बच्चे अपनी-अपनी तैयारी में लग गये, लेकिन मैंने किसी भी चीज़ में भाग नहीं लिया था। प्रोग्राम में डांस, ड्रामा, फैशन शो, ये सब था और जिस दिन फैशन शो का ऑडिशन था तो मेरे सारे फ्रेंड्स ने मुझे भाग लेने को कहा, लेकिन में नहीं गया, क्योंकि मुझे कोई रूचि नहीं थी। फिर ऑडिशन निकल गये और उसी दिन हमारे अकाउंट्स की क्लास चल रही थी तो प्रिया टीचर ने पढ़ाते-पढ़ाते अचानक कहा से कि जय तुम्हें फैशन शो में भाग लेना चाहिए, तुम दिखने में भी अच्छे हो और तुम्हारी हाईट भी अच्छी है। में तुम्हारा नाम लिख रही हूँ। में कुछ नहीं बोला और आख़िर में मैंने सोचा चलो कर ही लेते है। मुझे मिलाकर फैशन शो के लिए 15 बच्चे सलेक्ट हुए थे। फिर रोज़ हमारी स्कूल में ही प्रेक्टिस होती थी, अब प्रोग्राम के कुछ ही दिन बचे थे तो टीचर अपने घर बुलाने लग गये, रोज़ 2 घंटे तक प्रेक्टिस चलती थी जिसमें ड्रेस के बारे में, वॉक कैसे करना है, फेस एक्सप्रेशन कैसे रखने है? ये सब होता था। मैंने नोटीस किया कि मुझ पर टीचर कुछ ज्यादा ही ध्यान दे रही है। मुझसे हंसी मज़ाक करना, मेरी टाँग खींचना, वॉक की प्रेक्टिस के टाईम मुझे बार बार टच करना, लेकिन ठीक है, मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया।

फिर हम जब भी उनके घर जाते थे तो वो अकेली ही रहती थी और उनके पति जॉब करते है और रात को लेट ही घर आते है। उनके एक 4 साल की लड़की है जो उनकी नहीं है बल्कि गोद ली गई थी, क्योंकि प्रिया मेम में कुछ प्रोब्लम थी, उनका बच्चा नहीं ठहरता था, लेकिन मैंने उनको कभी भी इस बात के लिए दुखी नहीं देखा। फिर में भी फैशन शो की प्रेक्टिस के टाईम उनसे थोड़ा-थोड़ा नजदीक होने लगा था और उनसे फ्लर्ट करना चालू कर दिया। फिर तो में रोज़ प्रेक्टिस के बाद उनके घर रुकने लग गया, जब सभी बच्चे चले जाते थे तो में और प्रिया मेम बातें करते थे। फिर धीरे-धीरे प्रोग्राम की तारीख पास आने लग गई। प्रोग्राम के 2 दिन पहले प्रिया मेम ने मुझे रोज़ के टाईम से 2 घंटे जल्दी बुलाया, दोपहर के 2 बजे प्रोग्राम की तैयारी के लिए और मेम ने उस दिन सब बच्चो को छुट्टी दी हुई थी, तो में मस्त पर्फ्यूम लगाकर अच्छे से कपड़े पहनकर तैयार हो गया।

फिर में टाईम पर उनके घर पहुंचा और फिर उन्होंने दरवाज़ा खोला और में अन्दर आकर रूम में बैठ गया। फिर उन्होंने कहा कि तुम बैठो में बाथ लेकर आती हूँ, आज बाथ लेने का टाईम ही नहीं मिला। फिर वो अपने बेडरूम में चली गई। फिर आधे घंटे के बाद उन्होंने मुझे आवाज़ लगाई तो में उनके रूम में गया और देखा तो मेम ने एक मस्त काले कलर का टॉप पहना हुआ था और नीचे सफ़ेद कलर की एकदम टाईट केफ्री थी। में तो उनको देखता ही रह गया। वो क्या लग रही थी? उनका टॉप काफ़ी डीप कट का था जिससे बूब्स के ऊपर के पार्ट मतलब उनका क्लीवेज साफ़ दिखाई दे रहा था और केफ्री इतनी टाईट कि जांघो और गांड का पूरा शेप दिख रहा था। फिर मेरे 1-2 मिनट तक घूरने के बाद मेम ने चुप्पी तोड़ी और कहा कि क्या देख रहे हो? कभी कोई लड़की नहीं देखी क्या? तो मैंने कहा देखी तो बहुत है, लेकिन आज तक इतनी सेक्सी नहीं देखी और मुझे पता नहीं था कि आप इतनी सेक्सी दिखती हो। फिर मेम ने कहा कि बस करो, ये तो मैंने ऐसे ही पहन लिया, काफ़ी दिन हो गये थे तो मैंने कहा अच्छी बात है।

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *