मैडम ने चूत चुदवाकर मेरा हाल कर

madam se chut chudai ki हैल्लो दोस्तों, मैं antarvasna एक 21 साल का जवान लौंडा हूँ और मेरे लंड की लंबाई 6.5 इंच और मोटाई 3 इंच है और मैं कामलीला डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ और इन कहानियों को पढ़ने से मेरा लंड खड़ा हो जाता है और मैं मुठ मारता हूँ ये थी मेरी बात, अब आते है कहानी पर अगर कहानी पढ़कर लड़के अपने लंड से मूठ ना मारे और लड़कियां अपनी चूत से पानी ना छोड़ दे तो कहना। अब मैं सीधा आज की सेक्स स्टोरी पर आता हूँ।

दोस्तों बात 12वी क्लास की है जब मुझे इतना तो पता था की लंड खड़ा होता है लेकिन ये नहीं पता था की लड़की की चूत में जाने के लिए होता है अब बात आई है तो दोस्तों से पता किया की यह सब चुदाई में होता है तब मुझे पता चला और मानो मेरे शरीर में आग लग गयी हो किसी को चोदने की, पर चोदू तो किसको चोदू अपनी तो कोई गर्लफ्रेंड भी नहीं है। मैं पढ़ने में थोड़ा कमज़ोर था और हिन्दी में बहुत मजबूत था और हिन्दी हम लोगों को गीता मैडम पढ़ाती थी जो एकदम कुंवारी थी और 25 साल की होगी और उनका फिगर 34-28-30 होगा वो अक्सर स्कूल में सूट पहनकर आया करती थी और बहुत ही अच्छे स्वभाव की थी। गर्मी की छुट्टी का समय था स्कूल में, हिन्दी में थोड़ा पीछे था मैं तो हम लोगों को एक्सट्रा क्लास के लिए बुलाया जाता था सुबह 10-2 तक क्लास चलती थी। स्कूल मेरे घर से बस 2 किलोमीटर दूर था इसलिए हमारे मोहल्ले में बहुत सारे स्कूल के टीचर्स किराये पर रहते है जिसमें गीता मैडम भी थी, तो एक दिन बारिश होने लगी सभी बच्चे अपने अपने घर छाता लेकर कोई भीगकर चला गया मैं बैठा था बारिश रुकने के इंतज़ार में लेकिन साली बारिश रुक ही नहीं रही थी। अब मैडम ने कहा की तुम नहीं गये तो मैंने कहा मुझे भीगना पसंद नहीं है बारिश रुकेगी तब ही जाऊंगा, अभी बारिश हो रही है तो मैडम ने कहा चलो थोड़ा पढ़ लेते है मैंने कहा पढ़ाइये, फिर उन्होंने कहा चलो कोई गाना सूनाओ मैं गाना बहुत अच्छा गाता हूँ तो मैंने “पहली नज़र में पहला प्यार हो गया” वाला गाना गाया। उतने में मैडम की चुन्नी सरक गई और मैडम के मोटे मोटे बूब्स की सलवार के ऊपर से झलक मुझे दिख गयी मैडम ने मुझे देखते हुए देखा पर कुछ कहे बिना ही अपनी ओढनी सही की मैडम ने कहा तेरी कोई गर्लफ्रेंड है मैंने कहा नहीं फिर मैंने पूछा आपका कोई बॉयफ्रेंड या कही शादी तय हुई है। तो मैडम ने कहा 2 साल में शादी हो जाएगी मैंने कहा ओके, और बताईये, मैडम ने कहा क्या? मैंने कहा कुछ और मैडम ने कहा क्या करते हो घर पर, मैंने बोला पढ़ाई और टीवी देखता हूँ। फिर इतने में मैडम की चुन्नी एक बार और गिरी और मैंने फिर से वही देखा तो मैडम ने पूछा क्या देख रहे हो मैं थोड़ा शरमा गया मैडम ने कहा ये उम्र ही ऐसी है इसपर से नज़र ही नहीं हटती।

तो मैंने झट से पूछा क्यू मैडम? मैडम ने कहा इस उम्र में जवानी का जोश होता है मैंने कहा हाँ मैडम और यह सेक्स क्या होता है फिर मैडम बोली ये सब बातें अभी नहीं, मैंने कहा प्लीज़ बताओ फिर मैडम ने कहा जब लड़के का लिंग लड़की के लिंग में जाता है और अपना पानी छोड़ देता है तभी सेक्स होता है। तो मैंने बोला कैसे जाएगा मैडम बोली की अगर मैं अभी नंगी हो जाऊ तो तेरा लिंग रोड के जैसा टाइट हो जाएगा और मेरे अंदर जाने को तैयार हो जाएगा मैंने कहा मेरा तो लिंग टाइट ही नहीं होता, आप दिखाओ रोड के जैसे टाइट बनाकर मैडम ने कहा ठीक है लेकिन ये बात हम दोनों के बीच ही रहनी चाहिये। मैडम ने कहा पास आओ फिर मैं मैडम के पास गया फिर कहा इसको दबाओ मतलब बूब्स को मैंने दबाया मैडम ने बोला ज़ोर ज़ोर से मैं ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा मैडम ऊउईइ. आहह. करने लगी और मेरा भी लंड टाइट हो गया मैडम ने कहा देखो तुम्हारी पेंट फटने को तैयार है मैंने कहा मैडम अब कंट्रोल नहीं हो रहा और ज़ोर से मैडम के बूब्स दबाने लगा जिससे मैडम सिसकियाँ भरने लगी। फिर मैंने मैडम का सूट ऊपर किया और ब्रा ऊपर उठाई और उसी पल उनको चूसने लगा और फिर धीरे धीरे मेरा हाथ उनकी चूत की तरफ बढ़ने लगा फिर चूसते चूसते हाथ से उनकी चूत को सहलाने लगा, मैडम बोली अब जल्दी करो मैंने मैडम का सलवार सूट उतारा फिर पैंटी भी, और मैडम की चूत में उंगली करने लगा फिर मैडम चिल्लाने लगी और बोली तेज, मैं तेज़ तेज़ उंगली करने लगा मैडम ने कहा अब डालो मैंने कहा आपने पहले लिया है, क्या किसी का? मैडम ने कहा मौका ही नहीं मिला कभी सेक्स करने का, मेरा लंड पूरा लाल हो गया था एकदम टाइट फिर मैडम ने कहा डालो। मैंने बिना कुछ सोचे समझे सीधा अपना लंड मैडम की चूत में पेल दिया आधा लंड और मैडम की चूत से खून गिरने लगा मैडम की आँखों में आंसू और दर्द भरी आवाज़ निकली प्लीज रुक जाओ मैं मर जाऊँगी। दोस्तों यह सेक्स स्टोरी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *