ज़िम में तीन चूत और एक लंड

सभी भाभी जी लोगों को और अन्तर्वासना के पाठकों को आपके अरमान का नमस्कार! दोस्तो मेरी पिछली सेक्स स्टोरी
पुलिस वाली की चूत का चक्कर

के अन्तर्वासना पर प्रकाशित होने के बाद मेरे पास करीब सौ से ज्यादा भाभियों और लड़कियों के मेल आए, जिसमें मेरी पहली कहानी पुलिस वाली की चुत का चक्कर के तीनों भागों को सभी ने काफी सराहा और अगली कहानी के लिए रिक्वेस्ट की. कुछ ने तो मुझसे मिलने की इच्छा भी जाहिर की, लेकिन मेरी पहली कहानी की घटना के बाद तो जैसे लाइफ ही बदल गई.

अन्नू और डॉली ने मुझे काम छुड़ा कर अपने साथ ही रख लिया. अब मैं उन्हीं के साथ रहता हूँ. उन्होंने अपनी कई सहेलियों से मिलवाया और ऐश करवाई. दोनों की दोस्ती इंडिया में लगभग सभी शहरों में थी. उनके यहाँ काफी महिलाओं का आना जाना था, सभी हाई प्रोफाइल घर की या बड़ी पोस्ट पर या बड़े बड़े बिजनेस मेन की पत्नियां या उन्हीं के घर में से थीं.

उनकी उन्हीं फ्रेंड्स में एक एकता की बात लिख रहा हूँ. एकता फिगर के मामले में डॉली की टक्कर की है. उसकी उम्र करीब 45 साल की है. वो दो बच्चों की माँ है. उसकी एक लड़की की शादी जयपुर के हीरा व्यापारी के यहाँ हुई है. हीरा व्यापारी की पत्नी का अन्नू और डॉली के यहाँ आना जाना था. एकता के पति मुंबई में इनकम टैक्स में बड़ी पोस्ट पर हैं. छापे डालने का काम भी करते हैं, इसलिए काफी पैसे वाली पार्टी थी.

एक बार एकता एक सप्ताह के लिए अन्नू और डॉली के यहाँ आई हुए थी. अन्नू और डॉली ने मुझे घर में शार्ट पहनने से मना किया हुआ था, तो मैं जॉन अब्राहिम वाली चड्डी में ही घर में रहता था. घर में ही जिम था तो मैंने कसरत करके अपना शरीर अच्छा कर लिया था. खाने पीने की भी कोई कमी नहीं थी.

एकता जब आई तो उसे लेने अन्नू ही एयरपोर्ट गई थी. जब वो आई उस वक्त मैं अपने ऊपर वाले रूम में था. घर के अन्दर मुझे जोर जोर हंसी की आवाज़ आई. मैंने गैलरी से देखा तो एकता, अन्नू और डॉली काफी हंस हंस के और आपस में किस करते हुए बातें कर रही थीं.

मैं ऊपर से देख रहा था, तभी अन्नू ने मुझे देखा और आवाज दी- कम ऑन अरमान कम.. ज्वाइन अस.

मैं नीचे उतरने लगा तो एकता मुझे ही देखे जा रही थी. जब मैं उनके बीच पहुँचा तो अन्नू और डॉली ने उठ के मुझे एकता के सामने ही बारी बारी से किस किया और गुड मॉर्निंग कहा.

एकता ने पूछा- ये लड़का कौन है?
डॉली ने कहा- ये हमारा सेवक है, जो हमारी रात दिन सेवा करता है.
यह सुन कर एकता उठी और बोली- मेहमानों की सेवा भी करोगे या नहीं?
मैंने दोनों की तरफ देखा और अन्नू ने कहा- बिंदास एन्जॉय करो यार..

इतना सुनते ही एकता ने मेरे सर को अपनी तरफ खींचा और एक लॉन्ग स्मूच करते हुए मेरे सीने पर हाथ फिराने लगी. साथ ही वो एक हाथ से मेरे लंड को दबाने लगी. मेरा भी मूड बनने लगा, मैं भी अब एकता को अपनी ओर खींच कर उसकी कमर में हाथ डाल कर स्मूच करने लगा.

इतने में डॉली ने कहा- अरे पहली मुलाकात में इतना काफी है.
मैंने भी एकता को ढीला छोड़ दिया.

एकता बोली- तुम दोनों की चॉइस अच्छी है.. जवान लड़का है, इसकी जवानी का रस निचोड़ रही हो दोनों.
ये सुन के दोनों खिलखिला कर हंसने लगीं.

अन्नू बोली- अरे यार एकता, तू थक गई होगी.. फ्रेश हो जा, थोड़ा आराम कर ले. ये यहीं है हमारी सेवा करने के लिए.. इसका मजा बाद में ले लेना.

इसके बाद तीनों उठीं, अन्नू एकता को उसका रूम दिखाने लगी. मैं और डॉली ऊपर कमरे में आ गए, फिर मैं दिन में करीब एक बजे के आस पास उठा, नहाया और देखा कि अन्नू और डॉली अपने काम पर गई हुई थीं. मैंने कॉल करके कन्फर्म किया, एकता को देखा तो अपने रूम में सो रही थी. मैंने उन्हें उठाना ठीक नहीं समझा और मैं डाइनिंग टेबल पर बैठ के हमारी काम वाली बाई को खाने का कहा, उसने मुझे खाना दिया मैंने खाया और रूम में जा के टीवी देखने लगा.

तभी अन्नू का मेरे पास फोन आया- एकता उठ गई क्या?
मैंने बताया कि वो सो रही हैं तो अन्नू बोली- हम दोनों चार बजे तक आ जाएंगी, फिर हम शाम को कहीं चलेंगे.
मैंने हां कहा और फिर वापस टीवी देखने लग गया.

करीब ढाई बजे मैंने नीचे आवाज़ सुनी, देखा तो एकता उठ चुकी थी. गैलरी से मैं नीचे आके सोफे पर एकता के पास बैठा. एकता मेरे सीने पर अपना सर रख के फिर से सोने का नाटक करने लगी.
मैंने कहा- उठो नहा लो, खाना खा लो चार बजे दोनों आ जाएंगी, हमें शाम को बाहर चलना है.
एकता ने कहा- मैं बहुत थक गई हूँ.. तुम हेल्प करो ना.
मैंने कहा- क्या हेल्प करूँ?
एकता ने कहा- मुझे नहला दो प्लीज.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *