मेरी सेक्सी भान्जी को मेरे दोस्त ने चोदा

मेरा नाम सलमान है. यह कहानी मेरी और मेरे बेस्ट फ्रेंड से जुड़ी हुई है. राहुल मेरा बेस्ट फ्रेंड है. मैं 42 साल का हूँ और वो 41 साल का. हम दोनों ही रेलवे में काम करते थे लेकिन ये नहीं जानते थे कि हम एक सोशल नेटवर्किंग साइट पर भी अन्जाने में एक दूसरे से बात कर रहे हैं. हम दोनों एक दूसरे से अन्जान बनकर चैट कर रहे थे और हमें काफी समय हो गया था.

वो दादर रेलवे स्टेशन पर टी.सी. की जॉब करता था और मैं माहिम रेलवे स्टेशन पर. राहुल मुझसे अपनी बहनों की बात करता रहता था और मैं उसको अपनी भान्जियों के बारे में बताता रहता था.

हमें बाद में पता चला कि हम दोनों विर्चुअल ही नहीं बल्कि रीयल लाइफ में भी दोस्त हैं. राहुल की हाइट 5.7 फीट थी. वो देखने में हट्टा कट्टा था और उसको देख कर लगता नहीं था कि वो 40 को पार कर गया है.

एक दिन वो मेरे घर पर आ गया. वह मेरी भान्जियों की जवानी को और करीब से देखने के लिए आया था. वह हमारी पहली मुलाकात थी. जब वो घर आया तो मैंने आफरीन बानू को कॉफी बनाने के लिए कहा और वो कुछ ही देर में कॉफी बनाकर ले आयी.
आफरीन ने एक गुलाबी रंग की साड़ी और उस गहरे गुलाबी रंग का लो-नेक ब्लाउज पहना हुआ था. वो उसमें ऐसी लग रही थी कि मन कर रहा था उसको नंगी करके अभी उसकी चूत चाट कर उसका पानी निकाल दिया जाये. लेकिन अभी तो राहुल उसके मजे लेने के लिए आया था.

उस दिन आफरीन ने राहुल को पहली बार देखा था मगर फोन पर होने वाली चैट पर वो एक-दूसरे को पहले से ही जानते थे. आफरीन भी राहुल को देख कर खुश हो गई थी. वो उसको मामा बुलाती थी.
उसने कॉफी का कप टेबल पर झुक कर रखते हुए कहा- वेलकम राहुल मामा. ये लीजिए आपके लिए कॉफी. फिर उसने दूसरा कप मेरी तरफ बढ़ाते हुए मुझसे कहा- सलमान मामा, ये आपके लिये. झुकते हुए उसकी चूचियों की क्लीवेज पर मेरी नजर पड़ी तो मन किया कि इसको नंगी करके अभी चोद दूं.

राहुल ने उसको पहली बार देखा था तो राहुल की नजर उस पर से हट नहीं रही थी. मैंने इससे पहले राहुल को आफरीन की बस एक ही फोटो दिखाई थी जिसको देख कर राहुल मुट्ठ मारा करता था. राहुल का लंड मैंने देखा हुआ था. वो एक महान लंड का मालिक था.
मैंने कहा- आफरीन यही राहुल है जिससे मैंने तुम्हारी फोन पर बात करवाई थी.

राहुल ने उठ कर उसके साथ हाथ मिलाया और फिर आफरीन भी हमारे साथ ही बैठ गई. आफरीन अभी कुंवारी थी और उसकी उम्र 26 साल हो चुकी थी. मगर उसकी जवानी को देख कर लगता था कि वह 22-23 के आस-पास ही होगी. अभी तक उसने अपनी चूत में लंड नहीं लिया था.

मगर एक बार मेरा एक दोस्त रमेश उसको घर पर अकेली पाकर उसको जबरदस्ती नंगी करके उसके चूचे दबाते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया था. मैं मार्केट गया हुआ था और चूचे मसलने के बाद वह आफरीन को चोदने की तैयारी में था तभी मैंने आकर डोरबेल बजा दी थी और उसकी चूत चुदने से बच गई थी.
खैर, वो बात तो अब काफी पुरानी हो चुकी है.

मैंने उन दोनों से कहा- तुम बातें करो तब तक मैं वॉशरूम होकर आता हूं.
उठते हुए मैंने आफरीन बानू की क्लीवेज देख ली. उसकी चूचियों की क्लीवेज देख कर मुझसे रहा न गया और मैंने बाथरूम में जाकर लंड हिलाना शुरू कर दिया. आह-अह … आफरीन … रंडी … ले ले मेरा लंड … आह … करते हुए मैंने लंड को रगड़ दिया.

इधर राहुल आफरीन को देख कर खुश हो गया था. उसका भी मन कर रहा था कि उसकी क्लीवेज के बीच में लंड को फंसा कर उसकी चूचियों को चोदते हुए सारा माल उसकी क्लीवेज की घाटी में गिरा दे.

तभी आफरीन राहुल से पूछ बैठी- मामा, आपने अभी तक शादी क्यों नहीं की?
राहुल- मुझे एक लड़की ने धोखा दे दिया था. इसलिए मैंने शादी नहीं की. मेरा प्यार और शादी पर से भरोसा उठ गया था. मैंने तो नहीं की लेकिन तुम कब कर रही हो?
आफरीन- वो तो सलमान मामा ही बता सकते हैं.
राहुल- कहीं प्यार-व्यार का चक्कर तो नहीं?
आफरीन- नहीं मामा, ऐसी कोई बात नहीं है.
राहुल- इतनी मॉडर्न लड़की को किसी ने आज तक प्रपोज़ नहीं किया क्या?
आफरीन- किया था चार-पांच लड़कों ने, वो मुझे डेट पर भी लेकर गये थे लेकिन मैंने मना कर दिया क्योंकि मैं अभी लाइफ को इंजॉय करना चाहती हूं. शादी देर से ही करूंगी. अभी तो मेरी इंजॉय करने की उम्र है राहुल मामा.

राहुल- हम्म … और वो झारखण्ड वाले अंकल का क्या हुआ?
आफरीन- आपको कैसे पता मामा?
राहुल- सलमान ने ही बताया था. तुम्हारा नम्बर सलमान मामा ने ही उसको दिया था.
आफरीन- हां, मैं उससे बात करती थी लेकिन मुझे ये नहीं पता था कि उसको मेरा नम्बर सलमान मामा ने दिया है.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *