भाई ने चूत की खुजली मिटाई

यह बात सुनकर मुझे बहुत अच्छा लगा कि मेरा भाई सच में मेरी केयर करता था. मैंने भी उसको जवाब में उसे एक किस कर दी. उसने भी पलट कर मुझे दुबारा किस किया और हम दोनों लोग एक दूसरे को किस करने लगे. मेरा भाई मुझे किस करते करते मरे गर्दन को किस करने लगा.

उसने मेरे कपड़ों को मेरे कामुक जिस्म से हटाना शुरू कर दिया. हम दोनों ने एक दूसरे को किस करते करते कब एक दूसरे के कपड़े निकाल दिए, हम दोनों को पता ही नहीं चला. मैं ब्रा और पेंटी में उसके सामने थी. मैं मॉडर्न ब्रा और पेंटी पहनती हूँ जिसमे मेरी चूची और गांड का पूरा हिस्सा दिख रहा था.

मुझे ब्रा और पेंटी में देख कर भाई का लंड खड़ा हो गया और उसने मेरी ब्रा और पेंटी भी निकाल दी. हम दोनों एक दूसरे के सामने बिल्कुल नंगे थे. उसका एक हाथ मेरे बूब्स पर था और दूसरा हाथ मेरी कमर पर था और हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे. वो मुझे किस करने के बाद नीचे आकर मेरी चूत को चूमने लगा. वो मेरी चूत को चूमने के बाद मेरी चूत में उंगली करने लगा और उसके बाद वो जोर जोर से मेरी चूत में उंगली करने लगा.

मेरी चूत पानी छोड़ने लगी. वो मेरी नाजुक चूत को जोर जोर से अपनी उँगलियों से चोद रहा था और मेरी चूत पानी छोड़ रही थी जिसको मेरा भाई चाटने लगा. मेरी चूत का पानी पीने के बाद वो अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ने लगा. मैं भी हल्की हल्की सिस्कारियाँ लेने लगी और उसके बाद वो मेरी चूत में अपना जीभ डाल कर मेरी चूत को चाटने लगा. मैं पूरे जोश में उसका सर अपनी चूत में दबा रही थी और वो पूरी तन्मयता से मेरी चूत को चाट रहा था.

मुझे इतना सुख कभी नहीं मिला था अपनी चूत चटवा कर … जितना सुख मेरे भाई ने मेरी चूत चाटकर मुझे दिया.

वो मेरी चूत चाटने के बाद अपना लंड मुझे चूसने के लिए बोला और मैं अपने भाई का लंड चूसने लगी. वो भी मेरे मुंह में अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा और कुछ देर के बाद वो झड़ गया और अपना माल बाहर निकाल दिया.

मेरी चूत की आग शांत ही नहीं हो रही थी. मेरी चूत को लंड की जरूरत थी. मैंने अपने भाई के लंड को अपने हाथ में ले लिया और उसे दोबारा खड़ा करने की कोशिश करने लगी. और मेरा भाई लगातार मेरे नंगे बदन से खेल रहा था.

कुछ देर बाद जब भी का लंड खादा हो गया तो उसने मुझे बिस्तर पर लेताया और वो अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा और एक जोर का धक्का मेरी चूत में मारा तो मेरे भाई का लंड मेरी चूत में चला गया और वो मुझे चोदने लगा. वो मेरे ऊपर चढ़ कर मुझे चोद रहा था और मैं मादक आवाजें निकल रही थी- आह आह भी चोदो और चोदो मेरी चूत को इसकी आग को आज शांत कर दो!

मेरा भाई अपने लंड से मुझे चोद रहा था, हम दोनों भी बहन अपना रिश्ता भूल कर चुदाई कर रहे थे. वो कभी कभी मेरी गांड को भी जोर से दबा दे रहा था और कभी कभी मुझे अपने ऊपर लेकर मुझे चोद रहा था. मेरे घर में से सब लोग बाहर गए हुए थे तो मैं भी जोर जोर से चिल्लाकर उससे चुदवा रही थी.

वैसे भी मेरे बेडरूम में जल्दी कोई आता नहीं है और अगर कोई आता है तो मुझे पता चल जाता है कि कोई आ रहा है इसलिए हम दोनों लोग आराम से सेक्स कर रहे थे. हम दोनों को डर नहीं था किसी का!
और मुझे तो बहुत दिन के बाद लंड मिला था चुदवाने के लिए तो मैं बहुत मजे से आराम से अपने भाई से चुदवा रही थी.

हम दोनों को चुदाई करते करते बहुत पसीना आ गया था तो मैंने अपने बेडरूम का कूलर चालू कर दिया और हम दोनों आराम से ठंडी हवा का मजा लेते हुए सेक्स करने लगे.

हम बहुत देर से सेक्स कर रहे थे तो थोड़ा थक गए थे. हम थोड़ी देर रुके और एक दूसरे को किस करने लगे, उसके बाद हमने पानी पिया.

अब हम दुबारा सेक्स करने लगे. मेरा भाई अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे चोद रहा था और मैं इस बात से खुश थी कि अब तो मुझे घर में ही लंड मिल जाया करेगा चुदवाने के लिए!

मैं अपने भाई को अपने ऊपर लेकर उससे चुदवा रही थी. हम दोनों चुदाई करते करते अब झड़ने वाले थे.
मेरा भाई बोला- यार नेहा, तुमको चोदने में बहुत मजा आ रहा है!

और वो अपना लंड बाहर निकाल कर मेरी चूत को चाटने लगा. मेरी चूत से बहुत पानी निकल रहा था और मैं अभी तक झड़ी नहीं थी. मेरा भाई मेरी चूत का पानी चाटने लगा. वो मेरी दोनों टांगों को खोलकर मेरी चूत को चाट रहा था.

Pages: 1 2 3

Comments 1

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *