सतबड़ी के साथ यादगार लम्हे

हैल्लो दोस्तों, में शोवन कोलकाता का रहने वाला हूँ, लेकिन में पिछले कुछ सालों से अमेरिका रहकर अपनी नौकरी कर रहा हूँ। दोस्तों आप सभी की तरह मुझे भी कामुकता डॉट कॉम पर सेक्सी कहानियों को पढ़ने का शौक अभी कुछ सालों से लगा और उसके बाद मैंने हर एक कहानी के बड़े मस्त मज़े लिए। दोस्तों आज में आप सभी को अपने जीवन की उस घटना को बताने यहाँ आया हूँ जिसमे मैंने अपनी कुछ दिनों की छुट्टियों में अपने देश आकर एक मस्त हॉट सेक्सी औरत के साथ उसकी चुदाई के मज़े लिए और वैसे तो मुझे बहुत पहले से सेक्स करना बड़ा अच्छा लगता है और इसलिए मैंने अब तक हमारे देश और दूसरे देश की भी चूत को अपने लंड से चोदकर संतुष्ट किया था, लेकिन जो बात हमारे देश में है वो दूसरे देशो में कहाँ? और अब में आप सभी को ज्यादा देर बोर ना करते हुए अपनी उस घटना को पूरी तरह विस्तार से सुनाना शुरू करता हूँ और बताता हूँ कि मैंने उस शादीशुदा औरत के साथ क्या और कैसे किया? दोस्तों वैसे मैंने अपना नाम शुरू में ही बता दिया है, लेकिन फिर भी में दोबारा बता देता हूँ मेरा नाम शोवन है, में 26 साल का हूँ और अमेरिका में एक बैंक में नौकरी करता हूँ।

अब में बहुत समय बाद छुट्टियों में अपने घर आया था और मेरे साथ जो कुछ भी हुआ वो मैंने कभी नहीं सोचा था और ना ही कभी मैंने इसकी कल्पना भी की थी। फिर में अपने घर पहुंचने के बाद अपनी मम्मी और पापा से मिला और उनके साथ कुछ वक़्त बिताने के बाद अपने कुछ दोस्तों से फोन पर बात करना शुरू किया। फिर उसी शाम को मेरे पास एक फोन आया और मुझे वापस अपने देश में आ जाने की मुबारकबाद मिली और कहा कि अबे अपने दोस्तों को भूल गया क्या गांडू चल दारू पीते है। फिर मैंने भी तुरंत हाँ कर दिया, क्योंकि वो मेरा इस देश में बहुत ही करीब दोस्त है और उसका नाम कौशिक है, वो जब में भारत में रहता था तब मेरे साथ ही पढ़ाई करता था इसलिए अब में उसकी वो बात नहीं टाल सकता था। अब हम दोनों ने विचार बनाया और कहा कि चलो हम बार में चलते है वहीं चलकर हम मज़े लेते हुए बातें भी करेंगे। फिर उसने भी मेरे मुहं से यह बात सुनकर तुरंत हाँ कर दिया और फिर हम दोनों चल पड़े और रास्ते में कौशिक का एक दोस्त भी हमें मिल गया। फिर उसने मुझसे अपने उस दोस्त का परिचय भी करवाया और मैंने भी उसको अपने साथ ले लिया, हम सभी एक कार में थे।

फिर कुछ देर चलने के बाद हम सभी बार में जा पहुंचे और उसके बाद हम लोगों ने बहुत जमकर शराब के मज़े लिए और हमने बहुत हँसी मज़ाक भी किए। तभी बातों बातों में कौशिक ने मुझे कहा कि क्या बे मादरचोद तूने वहां पर रहकर बहुत अय्याशी की होगी, अब हमें भी उसके बारे में तो कुछ बता दे। फिर मैंने कहा क्या यार तुम लोग भी ना कुछ भी कहने लगते हो, हाँ वैसे यह बात तो सच है कि मैंने वहां पर रहकर बहुत अय्याशी कि और बहुत सारी लड़कियों को जमकर चोदा, लेकिन उसमे वो मज़ा नहीं जो हमारे में है। फिर मेरे मुहं से यह बात सुनकर अचानक ही कौशिक का फ्रेंड पिंकू बीच में बोल पड़ा, हाँ मेरे भाई यह तो तूने बिल्कुल सही बात कही है। अब मैंने उनको कहा कि मादरचोदो में इतनी दूर से आया हूँ तुम लोग क्या मेरी खातिरदारी नहीं करोगे? तभी कौशिक ने कहा कि अरे यार यह भी कोई पूछने की बात है और हम सभी लोग इसी तरह बातें कर रहे थे। फिर उसी समय रिंकू के मोबाइल पर किसी ने फोन किया और वो उससे बातें करने लगा और हम दोनों भी अपनी बातें कर रहे थे कि उसी समय रिंकू ने अपने फोन वाले दोस्त को कहा कि लो तुम मेरे एक दोस्त से बात करो, वो अभी दो दिन पहले ही अमेरिका से वापस आया है और यह बात कहकर मुझे उसने अपना फोन थमा दिया।

सेक्स कहानी  Warda ke Saath Masti

अब में पहले थोड़ा सा नर्वस हुआ, फिर मैंने उससे इशारे से पूछा कि यह कौन है? तो उसने कहा कि (रिंकू) तेरा जुगाड़ है। फिर मैंने फोन को अपने हाथ में लेते ही धीरे से कहा हैल्लो आप कौन हो? अब वहाँ से आवाज़ आई में आपकी दोस्त हूँ। अब मैंने उसको कहा कि हाँ ठीक है में मानता हूँ कि आप मेरी दोस्त है, लेकिन आपका नाम क्या है प्लीज़ मुझे वो भी तो बता दो। फिर उसने हंसते कहा कि शदब्दी, दोस्तों मैंने उस समय बहुत पी ली थी, लेकिन फिर भी में होश में था। दोस्तों में क्या बताऊं उसकी क्या मस्त सुरीली आवाज़ थी, उसको सुनकर ही मेरी सारी दारू मेरे सर से नीचे उतर गयी। अब उसने मुझे पूछा कि आप क्या करते है? और उसने मुझसे बहुत देर तक बहुत सारी बातें की में कुछ जवाब दिए बिना ही उसकी बातें सुन रहा था, क्योंकि में ना जाने कहाँ खो गया था और कब मेरे दोस्तों ने मुझसे फोन छीन लिया, मुझे पता ही नहीं चला। फिर जब मुझे कौशिक ने बुलाया, तब में अपने होश में आया और फिर उसने मुझसे कहा क्यों भाई साहब निकल गई ना हवा? मैंने उसको कहा हाँ यार क्या मस्त आवाज़ है, सच मानो मेरे तो लंड की उस समय वॉट लगी हुई थी। तभी रिंकू मेरे पास आया और वो मुझसे कहने लगा क्यों भाई साहब यह माल सही है ना क्या आपको इसका नंबर चाहिए?

कहानी जारी है ….. आगे की कहानी पढने के लिए निचे लिखे पेज नंबर पर क्लिक करे …..
Updated: January 11, 2018 — 9:57 pm
Indian sex Stories © 2017