अपनी बीबी को बॉस से चुद्वाकर मैं मेनेजर बन गया और लाखों कमाये

बात एक साल पहले की है। मैं बेरोजगार था और नौकरी की तलाश कर रहा था। मेरी पढाई 3 साल पहले खत्म हो गयी थी। घर वाले चाहते थे की मैं जल्द से जल्द कोई काम पकड़ लूँ और पैसे कमाऊं। पर बदनसीबी मेरा पीछा नही छोड़ रही थी। मेरे सारे दोस्त अच्छा पैसा कमा रहे थे। मेरा बाप जो की पाप था मेरे पीछे।पड़।गया और हमेशा मेरी गाड़ में ऊँगली करता रहता था। मेरी शादी भी हो चुकी थी। मेरे 3 भाई और।4 बहने थी। मेरे बाप ने मेरी माँ को खूब चोदा था और चोद चोद कर।इस महंगाई में भी 7 बच्चे चूत से निकाल दिए थे। अब मेरे बाप की गाड़ फटी थी। आमदनी अठन्नी थी, और खर्चा रुपैया था। सच में दोस्तों बड़ा बुरा हाल था। भगवान ना करे किसी लड़के को ऐसे।दिन देखने पड़े। मेरा बाप मेरे साथ साथ सभी भाइयों की गाड़ में ऊँगली करता रहता था। बस सुबह से शाम तक एक ही बात चिल्लाता था तुम लोगों की शादी कर दी है। अब तो शरम खाओ। घर।से बाहर।निलको कुछ कमा के लाओ। मेरा बाप एक सरकारी दफ्तर में।चपरासी था। कुल 12000 ही मिलते।थे और हम भाइयों की शादी के बाद तो 3 बहुवे घर में आ गयी थी। 12 15 लोग अब घर में हो गए थे। मेरा बाप हमेशा झल्लया रहता था।
इतनी चुदाई करने की क्या जरूरत थी?? भोसड़ी के मेरी माँ को चोद चोद के इतने बच्चे पैदा कर दिए!! मैं मन ही मन अपने बाप को गाली देता था। मेरा बाप एक नम्बर का ठरकी भी था। रात 9 बजते ही मेरी माँ को बुला लेता था और कमरा बन्द कर लेता था। अब भाई बहन जान जाते थे की हमारी माँ चुद रही होगी। मुझसे कोई काम नौकरी नही मिल रही थी। मेरी बीबी भी आये।दिन मेरी गाड़ में ऊँगली करती रहती थी। बड़ी किस्मत से कुछ दिनों बाद मेरे एक दोस्त ने मुझसे mr मार्केटिंग representative बना दिया। मुझसे अपने शहर सीतापुर में ही दवा कंपनी में काम मिल गया था। मैं बहुत खुश था कि अब बाप को कुछ ना कुछ हर महीने दूंगा। मुझसे 12000 की सैलरी ऑफर हुई थी। ऊपर से ta और da मैं पहले नही समा रहा था। मैं जोश से काम करने लगा। मुझसे कंपनी की दवा 1 लाख रुपए की हर महीना बिकवानी थी। मैंने काम शूरु कर दिया। सबसे पहले मुझसे 15 दिनो के लिए दिल्ली भेजा गया। वहां पर सुबह से शाम तक ट्रेनर दवा के बारे में बताते थे। डॉक्टर्स को कैसे दवा की खूबी बतानी है, कैसे पटाना है सब सिखाते।थे। मैं थोड़ा दब्बू था। डॉक्टर्स से कम बात करता था, इसलिए मेरा परफॉर्मंस अच्छा नही था। एक महीना गुजर गया और मेरी केवल 20 हजार की दवा बिकी।
रविंदर!!।अपनी सेल बढ़ाओ वरना अगले महीने जोनल मेनेजर सीतापुर आ रहे है। तुमको निकाल भी सकते है मेरे बोस विकास अग्गरवाल से मुझसे कहा।
मैंने विकास यानि अपने बॉस से कहा कि मैं थोड़ा दब्बू हूँ। डॉक्टर्स से खुल कर बात नही करता हूँ, सायद इसीलिए डॉक्टर दवा नही लिख रहे है। विकास बोला की डॉक्टर्स को पटाओ, उनसे खूब बात करो। घर परिवार का हाल चाल लो, तब बात बनेगी। मैं कोसिस करने लगा। एक महीने की सलरी मुझसे मिल गयी।। मैंने।डॉक्टर्स को पटाना।शूरु किया पर इसमें भी बड़ी प्रॉब्लम थी। कुछ डॉक्टर्स बड़े घाघ होते थे। सीधे सीधे कहते की अगर 1 लाख की दवा लिखेंगे तो 20 % लेंगे। कुछ डॉक्टर्स तो इतने।चंडाल होते थे की 30% 40% कॉमिशन मांगते थे। दूसरा महीना निकल गया। डॉक्टर्स की बड़ी खुशामद करने के बाद मेरी 50 हजार की सेल हुई। दिल्ली से।ज़ोनल मेनेजर आया और उसने मेरे बॉस विकास से कहा कि ये लड़का काम नही कर पा रहा है। इसे निकलना पड़ेगा। मेरा तो कालेजा मुँह में आ गया। मेरी तो गाण्ड फट गई। अभी 2 नौकरी लगी और अभी ही छूटने की बात होने लगी। वहां घर पर मेरा बाप मेरे हर भाई से कम से कम। 7 8 हजार हर महीने मांग रहा था घर का खर्चा चलाने के लिए। वो ये जान पाएगा की मेरा काम।छूट गया है तो मेरी माँ ही चोद देगा। मैंने सोचा। जोनल मेनेजर के जाने के बाद मैं अपने बॉस विकास से रोने लगा की सर, प्लीज मेरी नौकरी बचाइए। विकास बहुत अच्छा आदमी था। अगले हफ्ते मेरे बड़े भाई के बेटे का मुंडन था। मैंने विकास को बुलाया था। मेरी बीबी सोनिया विकास के लिए एक ट्रे में रसगुल्ला, बर्फी, पानी लेकर गयी थी। मैं सोनिया से कह दिया था कि विकास की अच्छी खातिर करना। वही दुनिया में इकलौता आदमी है तो मेरी नौकरी बचा सकता है। सोनिया ने क्रीम कलर की।साडी पहनी थी। थोड़ा गहरे गले का ब्लॉउज़ पहना था। सोनिया बिलकुल मेरे कहने पर।चलने।लगी। उसने विकास से नमस्ते किया। मिठाई दी। और हाल चाल पूछा। मैं दूर खड़ा विकास को।देख रहा था। मेरी जवान और।दूध।सी गोरी बीबी का जादू विकास पर चल रहा था। ये।देखकर मैं बहुत खुश था। पहली मुलाकात में मेरी जवान बीबी सोनिया विकास के दिल में बैठ गयी। विकास कुंवारा था और लड़कीबाजी में बड़ा लल्लू था। धीरे 2 मैं विकास को किसी ना किसी बहाने से घर बुला लेता था। सोनिया को उसके पास छोड़कर खुद बाहर चला जाता था। मैं चाहता था कि अगर विकास सोनिया से फस जाए तो मेरी नौकरी बची रहेगी। मैं भी सोचता की पैसे के लिए क्या क्या करना पड़ता है। अपनी बीबी को भी दूसरे से चुदवाना पड़ता है। सोनिया भी बड़े गरीब घर से थी, इसलिए विकास से चूदने को तैयार हो गयी थी। वो यही चाहती थी की मेरी नौकरी चलती रहे और मैं अपने पाप रूपी बाप को 7 8 हजार देता रहूँ। मैंने अपनी खूबसूरत बीबी को समझाया कि अपनी चूत का क्या अचार डालेगी। अगर मेरा बॉस विकास तुझे चोद भी लेगा तो क्या तेरी चूत पर उसका नाम छप जाएगी। चमड़े की 2 इंच चूत को एक आदमी चोदे या दो ,क्या फर्क पड़ता है। अगर तुझको चुद्वाकर मेरी नौकरी बच जाए तो क्या गलत है। ऊपर से मेरा मादरचोद बाप आये दिन हम भाइयों को हर दिन घर से निकलने की धमकी दे रहा था। बस एक ही बात वो कहता था हर महीने पैसा दो या घर छोड़ दो। सारी समस्या सुनकर सोनिया मेरे बॉस से चूदने को तैयार हो गयी। मेरे इशारे पर सोनिया विकास को रोमैंटिक मैसैज भी कर देती। उधर विकास भी लाइन लेने लगा। एक दिन विकास ने अपने फ्लैट पर पार्टी थी। हम हस्बैंड वाइफ को बुलाया। मैंने सोनिया को गहरे गले का टाइट ब्लॉज़े पहनने को कहा। काम बन गया। सोनिया उफ्फ्फ! कयामत लग रही थी। उसके बदन का गोश उसकी उभरी छतियों से झलक रहा था। मैं कुछ बहाना बना दिया और वहां से घर चला आया। सोनिया को मैंने विकास के फ्लैट पर।छोड़।दिया। तीर निशाना पर लगा। विकास सोनिया को देखकर फ़िदा हो गया। उसने उसका हाथ पकड़ लिया और कहा सोनिया! क्या मुझसे सीक्रेट अफेयर करोगी। सोनिया ने हँसकर हाँ कर दी। पार्टी खत्म होने के बाद विकास सोनिया को बेडरूम में ले गया। सोनिया मुस्कुराकर विकास के कहे पर नाचने लगी, विकास ने मेरी जवान और बेहद खूबसूरत बीबी की पतली कमर में हाथ दाल दिया। सोनिया सिहर गयी।
विकास जी! कहीं किसी को इसके बारे में पता ना चल जाए?? कहीं ज़माने को हमारे ऑफर के बारे में पता ना चल जाए?? सोनिया ने शर्माकर कहा।
विकास मेरी बीबी की कमर में हाथ डालके झूमने लगा। ज़माने को हमारे अफेयर के बारे में पता नही चलेगा! विकास बोला
पर मेरे पति रविंदर की नौकरी का क्या?? जोनल मेनेजर तो उनको निकलना चाहते है?? सोनिया ने हमारे मतलब की बात कही। वो मैं संभल लूंगा! विकास बोला। उसने ग्रे सूट पहन रखा था और टाई लगा रखी थी। वो बहुत जम रहा था। अब वो मेरी जवान बीबी को चोदने वाला था। मैं अच्छी तरह जानता था कि मेरी जवान बीबी आज मेरे बॉस से चुद जाएगी।
तो भी ठीक है! मैं आपसे सीक्रेट अफेयर करुँगी! सोनिया से मुस्कुराकर कहा।
विकास ने उसे अपनी ओर घुमाया, उसे जरा नीचे झुकाया और मेरी दूध सी गोरी बीवी के लबों से लब जोड़ दिए। उफ्फ्फ!! मेरी कयामत बीवी की सांसें विकास के नाक में उसकी रग रग में समा गई। वो मेरी बीबी सोनिये के पर्फ्यूम में डूब गया। मेरी बीबी भी विकास के मुँह से मुँह जोड़कर उसे चूमने लगी। एक शादी शुदा औरत जो हर रात छुड़ाकर और भी खिल जाती है, विकास से भाप लिया कि सोनिया की चूत बेहद चिकनी, नमकीन और मादक होगी। विकास भी मुँह चलाने लगा और उसने अपनी जीभ मेरी बीबी के मुँह में दाल दी। ठीक सोनिया ने भी ऐसा ही किया। आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है। दोनों गरमागरम।चुम्मन लेने लगे। एक खिली हुई परायी औरत को पाकर विकास की ख़ुशी का ठिकाना नही था। वो।सोनिया को।अपनी बीबी की तरह गहराई।से मुँह में।मुँह डालकर।चूमने।लगा। हाय!! सोनिया इतनी गर्म।थी की विकास के बदन में आग लग गयी। उसके जिस्म में कामदेव जाग गया। ये कामदेव अब सोनिया को चोद के ही मानेगा। विकास ने जान लिया। दोनों फ्रेंच किस करते करते बेड पर गिर गए। सोनिया डार्लिंग! ई मिस यू सो मच! ई लव यू सो मच! विकास कहने लगा। सोनिया के अंदर की चुदास जग गयी। आज उसे भी एक नया लण्ड का स्वाद मिलने वाला था। सोनिया उसे किस करती रही। उसने विकास का सूट निकाल दिया। फिर उसकी टाई निकाल दी। सोनिया बहुत।गर्म और उत्तेजक हो गयी। वो पागलों की तरह मेरे बॉस विकास की वाइट शर्ट के बटन खोंलने लगी। मेरी कामुक और चुदासी बीबी के गदराए बदन को देखकर विकास पागल हो उठा। सोनिया के अभी बच्चे नही हुए थे, इसलिए उसकी छातियां बेहद किसी थी। सोनिया की छातियां देखकर विकास सब कुछ भूल गया। उसके हाथ मेरी बीबी के स्तनों पर जाने लगे। जिस सोनिया को लेकर उसने तरह तरह की रोमांटिक कल्पनाएं की थी वो आज सच होने वाली थी। आज मेरी खूबसूरत बीबी उसकी बाँहों में थी वो भी सारी रात चुदवाने के लिए। विकास अचानक से बैठ गया और खुद को 2 4 चांटे मारने लगा। उसे अपनी किस्मत पर विश्वास नही हो रहा था। वो विस्वास ही नही कर पा रहा था कि आज उसे सोनिया चोदने खाने को मिल गयी है। सोनिया विकास के डनलप के मखमली बिस्तर पर लेट गयी और कुलांचे भरने लगी। मेरी जवान बीबी ने अपनी मदमस्त छातियां विकास को उप्पर करके परोस दी। सोनिया के भरे हुए स्तनों की भूण्डिया ब्लॉउज़ के ऊपर से झलक रही थी। सोनिया खुद विकास जैसे कुंवारे गबरू जवान मर्द से पूरी रात चुदवाना चाहती थी। सोनिया ने अपने हाथ पीछे किये और खुद अपना ब्लॉउज़ के बटन खोंलने लगी। उसने हाथ भर भर के लाल चूड़िया पहन रखी थी। सोनिया ने नीली शेड वाली लिपस्टिक लगायी थी। पायल भी पहनी थी। वो बिलकुल आइटम और छमिया लग रही थी। लाल रंग की खन खन करती चूड़ियों को सोनिया जैसी हसीना को पाने के बाद विकास को एक पल के लिए लगा की वो उनकी अपनी बीबी है। विकास मेरी बीबी की चूड़ियों से खेलने लगा और सोनिया ने अपना गहरा ब्लॉज़े उतार दिया। उसने ब्रा भी उतार दी। विकास तो जैसे बेहोश होते होते बचा। विकास चूड़िया छोड़ मेरी बीबी की दुधारू छातियां पिने लगा। उसका असलहा खड़ा हो गया। सोनिया की मुलायम छतियों को आजतक मेरे सिवा किसी ने हाथ भी नही लगाया था। आज कोई पराया मर्द मेरी बीबी की छतियों को दबा रहा था और पी रहा था। विकास ने मेरी बीबी की छतियों को मुँह में भर लिया। वो मस्त होने लगी। सानिया की चूत टाइट और गीली होने लगी। वो अकड़ने लगी। विकास पूरी शिद्दत से मेरी बीबी की पुस्ट दुधभरी छातियां पिता रहा। उसे महसूस हुआ की जैसे वो अपनी बीबी की छातियां पी रहा हूँ। सोनिया ने शर्ट उतार फेकी। अब वो विकास की ब्लैक लेदर बेल्ट खोंलने लगी। सोनिया भी आज एक नए लण्ड को चूसना चाहती थी। जैसी ही विकास ने अपनी पैन्ट उत्तरी सोनिया ने अपने दांतों ने उसका अंडरवेअर फाड़ दिया और लण्ड को अपने मुंह में झपट लिया और जन्मों जन्मों की प्यासी की तरह विकास के हत्ते कट्टे 10 इंची लण्ड को दोनों हाथों से पकड़ चुसने लगी। मेरी बीबी ने बड़ी शिद्दत से अपनी दोनों आँखे बंद कर ली और विकास के पुस्ट लण्ड को अपने मुंह में गले तक ले जाकर चूसने लगी। विकास भी मस्त हो गया। विकास कुंवारा था, इसलिए आजतक उसने किसी लकड़ी ने लण्ड नही चुस्वाया था। मेरी बीबी ने उसे खुश कर दिया। विकास को लगा कहीं उसका मॉल ना निकल जाए। उसने सोनिया के पैर खोल दिए, पैंटी उतार दी। हमारी शादी को अभी जादा साल ना हुए थे, इसलिए सोनिया की चूत आज भी नयी, टाइट और कुंवारी लगती थी। विकास के ऊँठ मेरी बीबी सोनिया की गरम चूत से टकराये तो जैसे आग लग गयी। विकास मेरी बीबी की चिकनी चूत को चाटने लगा। सोनिया गरम साँसे छोड़ने लगी। आखिर विकास मेरी जवान बीबी को चोदने खाने लगा। मेरा बॉस विकास मेरी खूबसूरत बीबी के रूप पर लूट गया था। कहने को तो वो मेरी बीबी की चूत चोद रहा था, पर असलियत में वो मेरी बीबी सोनिया के चेहरे को चोद रहा था। मेरे छेने जैसी रसभरी बीबी आज बिलकुल नंगी और बेपर्दा होकर विकास से चुदवा रही थी और उसकी हवस को शांत कर रही थी। समय के साथ साथ विकास मेरी खूबसूरत बीबी को और गहराई से चोदता चला गया। उसकी नजरे मेरी बीबी से ना हटती थी। सोनिया ने उसपर जादू कर दिया था। वो सोनिया की आँखों में आँखें डालकर उसे चोद खा रहा था। पूरी रात ये प्रेमालाप चला। मेरी बीबी ने खूब चुद्ववाया। खूब मेरे बॉस का सेवा सत्कार किया। विकास ने मेरी बीबी की गाण्ड भी मरी। उसके छतियों को लण्ड को सैंडविच जैसा दबाकर उसके मम्मे भी चोदे। सुबह सोनिया ने विकास के फ्लैट पर नहाया। ब्रेकफास्ट किया और ऑटो पकड़ घर आ गयी। काम हुआ?? मैंने अपनी बीबी को आँख मारी और पूछा
मुर्गा मेरे रूप के जाल में फस गया है! सोनिया बोली
मैंने सोनिया को गले लगा लिया। अपनी बीबी को बॉस से चुदवाने का बड़ा फायदा हुआ। विकास ने 5 हजार पर एक लड़का अपने पैसे से अलग रख लिया। वो 50 हजार की दवा हर महीने बेच देता और 50 हजार की दवा हर महीने में बेच देता। इस तरह मेरी नौकरी बच गयी। हाँ हर 15 दिन में मुझसे सोनिया को विकास के फ्लैट पर भेजना पड़ता उसे।चुदवाने के लिए। कभी कभी तो सोनिया 2 3 दिन बाद घर लौटतीं। आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है। 5 सालों बाद विकास जोनल मेनेजर बन गया। और मैं उसकी जगह पर सीतापुर का एरिया मेनेजर बना दिया गया। अब मैं हर महीने 60 हजार से ज्यादा पाने लगा। पर मैं कभी अपने बॉस विकास के अहसान को नही भुला। मैंने सोनिया को विकास ने बात करने की छूट दे दी। सोनिया अब भी विकास से फ़ोन से बात करती रहती। कभी कभी जब विकास को सोनिया की बड़ी याद सताती तो मैं उसे छूट दे देता। सोनिया दिल्ली जाकर विकास ने थोड़ा चुदवा लिया करती थी। अब मेरा हरामी बाप बड़ा खुश था। मैं हर महीने 20 हजार रुपए अपने बाप के हाथ में रख देता था। मैंने दवा कंपनी में एरिया मेनेजर बन लाखों रुपए कमाये और पक्का मकान भी बना लिया।

सेक्स कहानी  बाप बेटी की चुदाई की सच्ची
कहानी जारी है ….. आगे की कहानी पढने के लिए निचे लिखे पेज नंबर पर क्लिक करे …..
Updated: September 9, 2017 — 3:02 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Indian sex Stories © 2017