पिंक सिटी जयपुर में पिंक चूत चोडी hindi sex story

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम रजत है और आज में आप सभी को अपनी एक सच्ची चुदाई की कहानी सुनाने जा रहा हूँ, जिसमें मैंने अपनी वर्जिन गर्लफ्रेंड को पहली बार चोदा और उस समय मेरा भी उसके साथ यह पहला सेक्स रहा था और अब आप सभी चाहने वालों को वो घटना पूरी विस्तार से सुनाता हूँ और जो मेरी पहली चुदाई होने की वजह से आज तक मेरे दिमाग में बसी हुई है.

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai ki Kahani, Gujarati sex story, Kamukta, Suck sex, antarvasna, Hindi sex kahaniya

दोस्तों यह कहानी है मेरी और मेरी एक दोस्त के दोस्त की और यह करीब एक साल पुरानी बात है. दोस्तों कहानी शुरू करने से पहले में यह बता दूँ कि मेरी लम्बाई 5 फीट 7 इंच है और मेरा लंड 7 इंच लंबा और 2.5 इंच मोटा है और मेरी दोस्त के फिगर का साईज 34-30-32 है, वो दिखने में बहुत सुंदर है.

हम दोनों बहुत ही अच्छे दोस्त है और में हमेशा थोड़ा सेक्स करने के बारे में ज्यादा सोचता हूँ और मेरी रुची किसी भी अंजान लड़की के साथ जबरदस्ती एक रात को उसके साथ सेक्स करने की थी और यह मेरी मन की बात मैंने मेरी उस दोस्त को भी बता रखी थी और में हमेशा से उससे बहुत सारी ऐसी बातें किया करता हूँ. मैंने उससे बोल रखा था कि अगर उसकी ऐसी कोई दोस्त हो जो खुद मेरी तरह सोच रखती हो तो तुम उससे मेरी बात करवाना.

एक दिन उसका मेरे पास कॉल आया और उसने मुझे अपने घर पर बुलाया और फिर उसने मुझसे कहा कि मेरी एक दोस्त ने तुम्हें उसके घर पर बुलाया है और उसे तुमसे कुछ जरूरी काम है तो प्लीज तुम उसकी मदद कर दो. फिर मैंने उससे हाँ कहा और फिर हम दोनों उसी समय उसके घर पर चले गए, हमने उसके घर पर जाकर घंटी बजाई तो उस सेक्सी पटाका लड़की ने दरवाजा खोला, मेरी दोस्त ने ही उससे हैल्लो किया और गले मिले और उसके बाद मेरा भी उससे परिचय करवाया और तब मैंने उसे अपना नाम बताकर उससे हाथ मिलाया. फिर उसने हमे अंदर बुलाया और बैठने को कहा. अब वो हमारे लिए पानी लेने चली गई.

loading…

फिर वो लोटकर आई और हमें पानी पीने को कहा, हमने पानी पिया. अब उसने मेरी दोस्त से कहा कि तुम लोग कुछ देर बैठो जब तक में नहाकर आती हूँ और वो अंदर रूम में चली गई. तब मैंने मेरी दोस्त से कहा कि क्या यार? काम भी उसे है और वो अभी तक तैयार नहीं है, यह पता नहीं हमारा कितना समय खराब करवायेगी? फिर उसने कहा कि थोड़ा सब्र कर में उससे बोल दूँगी कि वो तुझे इंतजार करने के लिए थोड़ा इनाम दे दे, क्यों अब तो खुश हो ना?

फिर में मान गया और तभी मेरी दोस्त का फोन बजा और उसने बात करके फोन काट दिया, लेकिन अब उसने मुझसे कहा कि तू यही बैठ और उसका काम करवा देना, मुझे बहुत जरूरी काम आ गया है और अब मुझे जाना है. फिर मैंने उसे रोकने की बहुत कोशिश की, लेकिन वो जाने लगी और तभी उसकी दोस्त ने पूछा कि क्या हुआ तुम कहाँ जा रही हो? तो उसने कहा कि तू आराम से नहा ले और यह तेरा काम करवा देगा, मुझे एक जरूरी काम आ गया है, इसलिए जाना पड़ेगा और यह बात कहकर वो वहां से चली गयी और उसकी दोस्त ने मुझे देखकर स्माईल की और मैंने भी स्माईल कर दी.

sex samachar, Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Chudai ki Kahani, Gujarati sex story, Kamukta, Suck sex, antarvasna, Hindi sex kahaniya

दोस्तों उसे देखकर मेरा मन तो ऐसा कर रहा था कि में उसके साथ ही नहाने चला जाऊँ, क्योंकि वो दिखने में बहुत ही सेक्सी और उसके वो बड़े बड़े बूब्स उसकी मेक्सी से बाहर आने को तैयार थे. उसकी वो बड़ी आकार की गांड मुझे अपनी तरफ आकर्षित कर रही थी और में वो सब देखकर पागल हुआ जा रहा था और मन ही मन ना जाने उसके लिए क्या क्या सोच रहा था? तभी उसने कहा कि तुम थोड़ी देर और बैठो में बस अभी नहाकर आई और वो फिर बाथरूम में चली गयी. उसके बाथरूम में जाने के दो मिनट बाद ही उसने मुझे आवाज़ लगाई और कहा कि अनुज में साबुन लेना भूल गई हूँ यार प्लीज अलमारी में से नया साबुन निकालकर मुझे दे दो ना.

फिर मैंने कहा कि ठीक है और में तुरंत उठकर उसके रूम के अंदर चला गया और जब मैंने अलमारी खोली तो देखा कि सामने ब्रा और पेंटी पढ़े हुए है. दोस्तों एक बार फिर से मेरा मन वो सब देखकर डगमगा गया और मैंने उसकी एक ब्रा और एक पेंटी को उठा लिया और उन्हें सूंघने लगा और उसकी चूत के बारे में सोचने लगा.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *